<
Help for THE WELFARE OF THE WORLD
   
Please read this book and understand it. Before 101 years sadh ANUPDASHJI had invented it.God is only ONE than why sadness is there in world because first comfort ness of life was existing but now KALYUG(Darkness of Sadness) can not stop this and How that comfort will be back again that is described in the JAGATHITKARNI BOOK.With the help of thi s book you will get a proper understanding for this and you can contribute in this welfare of the world cause and in case of any questions you can directly contact on INFO@JAGATHITKARNIORIGINAL.ORG
 
   
                      इस किताब को अच्छी तरह से पढ़े सोचे और समजे. साध अनुपदासजी ने 101 वर्ष पूर्व अपनी भक्ति के सबब से खोज की थी कि इश्वर एक है तो संसार मैं दुःख क्यूँ है क्यूंकि पहले सतयुग (सुख व् ऐश आराम) था तो अब कलयुग (दुःख) क्यूँ है इसका निवारण कैसे हो सकता है और संसार की ओलादो को वापस सुख(सतयुग) कैसे प्राप्त होगा वोह पूरा खुलासा इस किताब जगत हित करनी मैं लिखा है आप इस बात को समज कर इस .अगर आप किसी तरह कि मदद करना चाहते है तो कृपया छावनी एरानपुरा से सीधा संपर्क करे. ईमेल वेबसाइट पर है |INFO@JAGATHITKARNIORIGINAL.ORG